Operating system एक software है जो user और computer hardware के बीच में interface की तरह काम करता है. Operating system का main objective computer को user के use के लिए convenient बनाना है और computer hardware को efficient way में utilize करना है. इस post में हम आपको बताएँगे की operating system क्या है? और operating system कैसे कम करता है.

Operating System kya hai.

Operating System क्या है?

Operating system computer के basic task को perform करता है जैसे keyboard से input को लेना, instruction को process करना, और screen को output भेजना. OS computer के memory और processes, के साथ-साथ ये सभी software और hardware को भी control करता है.

हर computer में एक operating system का होना जरुरी है. ताकि वो दुसरे program को run कर सके. Operating system आपको अपने computer बिना computer language jजाने communicate करने में Help करता है.

Operating system का use program और utility को run करने के लिए किया जाता है. ये application programs के execution को control करता है.

हर एक computer में application को control करने के लिए एक operating system का होना जरुरी है.बिना OS के computer किसी काम के लायक नहीं होता है.

 UNIX, MS-DOS, MS-Windows – 98/XP/Vista, Windows-NT/2000, OS/2 और Mac OS ये कुछ popular operating system के नाम है.

निचे Operating System के कुछ Important function को mention किया गया है

  • Memory Management
  • Processor Management
  • Device Management
  • File Management
  • Security
  • System performance के ऊपर Control
  • Job accounting
  • Error detecting aids
  • दुसरे Software और users के बीच मे coordination.

Memory Management :

Memory management Primary Memory और Main Memory के management को Refers करता है. Main memory fast storage provides करता है जैसे CPU direct access करता है. कोई भी program Main memory में ही execute करता है.

 Memory management के लिए operating system निचे दिए गए unctions को perform करता है

  • Memory के किस part को कौन use करेगा और कौन सा part उसमे नहीं रहेगा ये OS ( Operating System) manage करता है .
  • Multiprogramming में OS (Operating System) ये decide करता के कौन से process को कब और कितना memory मिलेगा .
  • जब कोई process memory के लिए request करता है तो ये memory allocate करता है .
  • जब कोई process को memory की ज़रुरत नहीं होती तो OS memory को de-allocate करता है.

Processor Management :

Multiprogramming environment में OS ये decide करता है के कौन से process को कब और इतने में के लिए memory allocate करना है . इस process को process scheduling कहा जाता है . Operating System processor management के लिए इन work को perform करता है

  • Process और proess के state नज़र रखता है और इस task के लिए जो program responsible है उसे traffic controller करते है
  • Process को processor allocate करता है .
  • Process finish होने के processor को deallocate करता है .

Device Management :

Operating System respective drive की help से device communication को manage करता है. Device management के लिए OS इन work को perform करता है

  • सभी device पे नजर रखता है. और जो program इस के लिए responsible है उसे I/O controller कहते है.
  • ये decide करता है की कौन से process को device मिलेगा और कितने Time के लिए.
  • Device को efficient way में.allocate करता है.
  • Device को de-allocates करता है.

File Management :

Easy navigation और usage के लिए file system को normally directories में organize किया जाता है. इन directories में दुसरे files और directories हो सकता है.

File management के लिए operating system इन कामो को करता है.

  • Information, location, uses, status, etc पे नजर रखना.
  • ये decide करने के लिए resources किसे मिले.
  • Resource allocate करना.
  • Resources को de-allocate करना.

Some More Important Activities :

यहाँ पर कुछ दुसरे importan activities दिए गए है जिन्हें operating system perform करता है.

  • Security −ये programs और data में unauthorize access को prevent करता है.
  • System Performance को control करता है– Service request और system response के बीच में ओने वाले delay को record करता है.
  • Job accounting − Various jobs और users के use किये जाने वाले time और resources पे नज़र रखता है.
  • Error detecting aids −dumps, traces, error messages और दुसरे debugging और error detecting aids को produce करता है.
  • Dusre Software और users के बीच में coordination:  Computer system के different user के लिए compilers, interpreters, assemblers और दुसरे software के Coordination और assignment को manage करता है.

Operating System के Types :

types Of Operating System

Commonly use किये जाने वाले important operating system के नाम निचे दिए गए है.

  • Serial processing: Serial processing operating system process के processing के लिए FIFO( First In First Out) structure को follow करता है.
  • Batch Processing: Batch Processing में एक ही तरह के काम को prepare और process किया जाता है.
  • Real Time System: Real time system का use उस जगह पे किया जाता है जहा higher और timely response की जरूरत होती है.
  • Distributed Operating System: इस operating system में data बहुत सारे location पे store और process करता है.
  • Multiprocessing: इस तरह के operating system में दो या उससे ज्यादा CPU operating system में होता है.
  • Parallel operating systems: इस तरह के operating system में computer के सभी running resources को parallelly manage किया जाता है.

Operating System कैसे काम करता है?

जब computer को Open किया जाता है तो operating system program के main memory में load हो जाता है. इस program को kernal कहा जाता है.

एक बार kernal के Load हो जाने के बाद operating system जो की एक system program है. user program को run करने के लिए ready हो जाता है.Ready होने के बाद OS application program को hardware का use efficiently करने की permission देता है.

Operating System के Charecteristics :

  • Operating system एक ऐसे program का collection है जो दुसरे program के execution को control करता है.
  • OS system से जुड़े input और output device को control करता है.,ये सभी application software को control करता है.
  • OS process को memory को allocate करने के लिए जिसे scheduling कहा जाता है उसके लिए responsible होना चाहिए
  • OS Bios में store होता है.. ये system start होते वक़्त system को execute करने के लिए जितने भी जरुरी information होते है use पार करता है. इसके लिए OS को computer में load करना होता है. इसलिए OS को computer के hard disk में store करना होता है.

उम्मीद है आपको Operating system का ये Article (Operating System क्या है? और ये कैसे काम करता है.) informative लगा होगा. अगर आपका कोई सवाल है तो आप हमसे comment section में पुच सकते है अगर आप अपनी खुद के WordPress Website बनाना सीखना चाहते है तो आप हमें Youtube पर Follow कर सकते है. जहा हम WordPress से related videos को हमेसा Share करते रहते है.

SUBSCRIBE Our Youtube Channel : Web9 Academy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here